web
stats

700 फ़ीट की उचाई का सबसे बड़ा मंदिर बन रहा है भारत के इस शहर में


loading...

चंद्रोदय मंदिर – 8 साल हर रोज लगभग 1000 मजदूर अपना पसीना बहाएंगे !

एक ऐसा मंदिर बनाने के लिए जो अतुल्यनीय होगा। 2022 में जब यह मंदिर तैयार हो जायेगा तो यह विश्व की सबसे ऊँचा मंदिर होगा।इस मंदिर का नाम होगा चंद्रोदय मंदिर जो की कृष्ण की जन्मस्थली मथुरा में बन रहा है।

यह मंदिर सिर्फ अपनी ऊंचाई में ही अद्वितीय नहीं होगा बल्कि इसके शिल्प का भी जोड़ दुनिया में मौजूद नहीं होगा।

चंद्रोदय मंदिर

इस मंदिर का निर्माण इस्कॉन सोसाइटी करा रही है।इस मंदिर के निर्माण का ख्याल सर्वप्रथम 2008 में आया था पर इसका इसका शिलान्यास 6 साल बाद 2014 में हो पाया। 2014 से इस मंदिर का निर्माण कार्य अनवरत चल रहा है। उम्मीद है कि 2022 तक यह मंदिर बनकर तैयार हो जायेगा। 511 खंभों से युक्त इस मंदिर की लंबाई होगी 700 फीट। इस मंदिर की नींव ही कुतुब मीनार की ऊंचाई के बराबर गहरी है। यह जानकारी मंदिर के कार्य निदेशक सुबयक्ता नरसिम्हा दास ने दी।

इतनी ऊंची इमारत को स्थिर रखने में कई आर्किटेक्चरल चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इसको ध्यान में रखते हुए मंदिर को फ्लेक्सिबल बनाया जा रहा है। 170 किमी के रफ्तार का अगर तुफान भी आ जाए तो इस मंदिर का कुछ नहीं बिगड़ेगा. यह मंदिर भयंकर तुफान की स्थिति में एक मीटर तक झुक सकती है।

इस मंदिर की सुरक्षा का भी खास ख्याल रखा जाएगा। इसकी सुरक्षा के लिए अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों को नियुक्त करने की योजना है जो इसे किसी भी तरह के आतंकवादी हमले से बचाएंगे।

इस मंदिर का परिसर 50 एकड़ का है जिसमें 6 हैलीपैड भी बनाए जाएंगे। मंदिर के इर्द-गिर्द कृत्रिम वन और कृत्रिम यमुना का निर्माण किया जाएगा।

जाहिर है कि दिल्ली में अक्षरधाम मंदिर के बाद चंद्रोदय मंदिर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में धार्मिक पर्यटन का एक बड़ा केंद्र बनकर ऊभर सकती है।

Your reaction?
WOW WOW
0
WOW
LOL LOL
0
LOL
Scary Scary
0
Scary
OMG OMG
0
OMG
Geeky Geeky
0
Geeky
Cute Cute
0
Cute
Damn Damn
0
Damn
Cry Cry
0
Cry
Win Win
0
Win
Fail Fail
0
Fail
Confused Confused
0
Confused
Love Love
0
Love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

log in

Don't have an account?
sign up

reset password

Back to
log in

sign up

Captcha!
Back to
log in